[:hi]सिंघाड़े के चीले[:]

[:hi]सिंघाड़े कच्चा भी खाये जाते है, और उबाल कर भी। सिंघाड़े के व्यंजन उपवास के दिनों में भी बनाए जाते हैं ।[:]

सामग्री

सिंघाड़े का आटा 1 कप हरी मिर्च १-२ सेंधा नमक १/२ चम्मच तेल / घी २ तेल / घी चम्मच पानी लगभग 1¼-1½ कप

विधि

[:hi][:hi]हरी मिर्च का डंठल हटा कर और उसे अच्छे से धो कर महीन-महीन काट लें।
अब एक बड़े कटोरे में सिंघाड़े का आटा, सेंधा नमक, और कटा हरी धनिया को मिलाएँ। अब इसमें थोड़ा-थोड़ा करके पानी डालते हुए चीले का घोल तैयार करे।
नौन स्टिक तवे को गरम करें।इसमें 1 बड़ा चम्मच चीले का घोल 3 इंच के गोले में फ़ैलाएँ।
थोड़ा सा तेल लगाकर दोनों तरफ से सेक लें।
गरमागरम चीले को दही के आलू के साथ परोसें।[:][:]